अंक 6

अंक 6 शुक्रवार का परिचायक है। किसी माह की 6, 15, 24 तारिख को जन्म लिया जातक 6 अंक के गुण ग्रहण करता है। 20 अप्रैल से 20-27 मई वृष राशि तथा 21 सितम्बर 20-27 अक्तूबर तुला राशि की अवधि मे पैदा होने वाले जातको मे इन गुणो की चमक आ जाती है। ज्यादातर अंक 6 के जातक अत्यधिक मोहने वाले होते हैं दूसरी और अपनी और सरलता से आकर्षित कर लेते हैं। उनके अधीनस्थ लोग उनको प्रेम करते हैं। और अक्सर उनके उपासक हो जाते हैं। उनमे अपनी योजनाएं पूर्ण करने की दृढ इच्छाशक्ति होती है। यहां तक कि वे हठी और न दबने वाले बन जाते हैं। लेकिन यदि किसी से प्रेम करने लगे तो उनके दास बन जाते हैं। यह शुक्र ग्रह की छाया मे होते है फिर भी उन्मे वासना से अधिक वात्सल्य की भावना पायी जाती है।

प्रेम के समस्त कार्यकलापों मे वह रूमानी और आदर्शवादी होते हैं। उन्मे शुक्र के कुछ गुण बहुत उन्नत होते हैं। जैसे वह सुन्दर चीजों से प्यार करते हैं, उनके घर बहुत कलात्मक होते हैं। वह गहरे रंगो, चित्रों तथा संगीत के प्रेमी होते हैं। धनवान होने पर वह कला तथा कलाकारों के लिये बहुत उदार हो जाते हैं। उन्हे मित्रों का सत्कार करना और अपने निकटवर्ती प्रत्येक व्यक्ति को खुशहाल बनाना अच्छा लगता है। यह मतभेद और ईर्श्या को झेल नही पाते। जब क्रोध मे आते है तो किसी विरोध की चिन्ता नही करते और अपने साथी, उद्देश्य या कर्तव्यपालन के लिये अंत तक जूझते हैं। यह अन्य वर्गो के अपेक्षा अंक 5 के जातको को छोड दोस्त बनाने की अधिक समझ रखते है। ऎसे लोगो का जन्म अंक यदि 3,6,9 हो तो यह बात प्रमुख रूप से उचित बैठती है।

इनके सौभाग्यशाली रंग हल्के से गहरा तक नीला है। गुलाबी या लाल रंग भी इनके लिये अच्छा है। परन्तु उन्हे कत्थई व काला रंग धारण करने से बचना चाहिये। उन्का भाग्य रत्न फ़िरोजा है, पन्ना भी शुभ है। इनके भाग्यशाली वार मंगल, गुरु और शुक्र है। मुख्यतः यदि इन वारों की तारीख 3,6,9,12,15,18,21,24,27 तथा 30 हो। उन्हे अपनी योजनाएं तथा उद्देश्य 6-15-24 को बनाने का प्रयत्न करना चाहिये। प्रमुखतः यदि ये तारिख अंक 6 के काल 20 अप्रैल से 27 मई तक तथा 21 सितम्बर से 20-27 अक्तूबर की अवधी मे हो।

अंक 6 वालों के लिए अनार, अंजीर, अखरोट सभी प्रकार की फलियां, चुकंदर, तरबूज, नाशपाती, सेब एवं बादाम आदि का सेवन स्वास्थ्यवर्धक एवं ऊर्जा से भरपूर होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>